shayari on chai

140 best Shayari On Chai for chai lovers (share with your chai bud)

Shayari on Chai. Chai is not just a type of drink it is an emotion and a feeling. Chai is love ❤️. So we are providing 100+ shayari and quotes for you all. Express your feelings for chai and you love of life with these romantic shayari and quotes.

shayari on chai

Shayari on Chai

“कैसे कह दू कोई नही है मेरा,
शाम की चाय रोज इंतजार कृति है मेरा |”
@kamil_writes

“बेरुखी सी पट्टी, अश्कों सी शक्कर मिलता हु,
में रोज अपने लिए ,कुछ ऐसी चाय बनाता हु,
और पी लेता हु उससे तेरी यादों में डुबाकर,
हां, इसी तरह में रोज तुझे अपने करीब पाता हु |”
@safar_taq

“तुझे एक पल की भी दूरी अब मुझे बर्दश ही नहीं होती,
जब तक तेरी एक घूंट न पी लू,
तब तक मेरे दिन की शुरुआत नहीं होती |”
@mere_kalam_se03

“जितनी वो पी रहा है शायद,
तिशंगी उतनी ही बढ़ रही है,
आज हावी जज्बातों ने जैसे,
चाय में प्यार मिला ही है |”
@shay_ar018_official

“गहरी नींद से जो उठा दे,
ऐसी अजीज़ चाय की तरह हो तुम |”
@akku_poetry

“किसी रोज मिलो तुम और त्महरी ही राय हो,
की साथ हो हमारे और हाथों में हमारे चाय हो |”
@the_artzon

“गर्म चाय के धुएं से तेरी तस्वीर बन जाती है,
फिर तेरे ख्यालों में खो जाता हु,
और मेरी चाय ठंडी हो जाती है |”
@ek_shayar_06

“चाहने वाले तो बहुत होंगे तुम्हारे कोई हिंसा चाहे तो बताओ,
काफी के लिए कायियो ने पूछा होगा कोई हमारी तरह चाय पिलाएं तो बताओ |”
@dil_ki_baatein_36

“थोड़ा भूपी पर,
थोड़ा अभी पर उधार है,
हमारी यारी चाय की कर्जदार है |”
@shayar__._

“फोन करके कहती है मैं शराब जैसी ही लोग मेरे नशे करते है,
मैंने कहा अब फोन रख हम चाय पीते है |”
@ek_shayar_06

Also Check – Shayari On Pehli Mulakat – Best 36 Romantic Shayari

shayari on chai

Shayari on Chai in Hindi

“गर नही होती चाय,
तो चाय पी मिलने वाले कोई और बहाना ढूढते |”
@paricha.bhasha

“किसी को बीमा अदरक तो किसी को अदरक इलाइची वाली पसंद आती है,
किसी को घरवाली तो किसी को बाहरवाली ज्यादा भाती है,
ये चाय है जो लब्जो से होकर सीधे दिल में उतर जाती है |”
@g_r_quote

“अपने इस कुलढ़ से दिल में मोहब्बत का चाय भरके तुझे पिलाना   है,
गुलाब से नहीं इसबार चाय पिला कर प्यार का इजहार करना है |”
@_words_that_speak_

“वो सास तो लेती है,
पर जीती नही,
चाय तो बनाती है,
पर पीती नही |”
@nightingaleshruti

“इश्क करना है तो चाय से कर दीवाने को कभी नही सताती,
जबान फिर भी जला दे पर दिल कभी नही जलाती |”
@chai.merijaan

“अपने से लगे तुम इसलीय चाय पी लेके गए,
पराए होते तो काफी पे बुलाते |”
@_miracle_words

“इस बारिश में वो टपरी की चाय की तलब से भी ज्यादा इस इस बरस में बारिश की हर बूंद मैं तुम्हारा साथ जीने की तलब है |”
@unkaheen_baatein_

“चाय पीते वक्त चर्चा और गर्लफ्रेंड बनाते वक्त खर्चा हम बिल्कुल नहीं करते है, इसलिए खुश रहते है।
सांवला है रंग, थोड़ा कड़क मिजाज है, सुनो तुम पसंद हो हमे तुम्हारा चाय सा स्वाद है |”

“कमबख़्त हसीन मौसम था, वो थी और थी चाय मोहब्बत लाज़मी थी, बचने का न था कोई उपाय |”

“मेरे साथ हो तुम दिल हो गया है गुम चाय है हाथ में तुम हो साथ में जिंदगी का ये सबसे खूबसूरत पल है |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“चंद लम्हों को सदियों में जीना है, मुझे तुम्हारे होठो से लगी चाय पीना है |”

“आदत नहीं कुछ , लाइलाज बीमारी है, चाय से मेरी कुछ इस कदर यारी है  |”

“जब ये लब चाय और तेरे लबों को छू लेते है, तो हम एक पल में सदियां जी लेते है |”

“काश की हैम चाय हो जाते वक्त बे वक्त तुजे याद तो आते।

कदम वही रुक जाते है जहाँ कोई कहा दे कि रुक तो chai बन रही है पी कर जा |”

“अगर चाय का invention न हुआ होता तो आधी population तो सिर दर्द से मार जाती।
दर्द क्या होता है उससे पूछो जिसका chai में बिस्किट गिर गया हो |”

“सुना है दिल टूट गया है तुमारा खैर छोड़ो आओ किसी दिन चाय वाई पीते है |”

“इश्क़ के धुएं से इश्क़ नही करना हमे कम्भख्त चाय बुरा मान जाएगी |”

“इंसान का दिल और चाय का कप दोनो हमेशा भरे होने चाहिए |”

“चाय में चीनी और रात में निनी दोनो बहुत जरूरी है |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“कॉफ़ी में चाय मिलकर पीती है, आज भी वो किसी और के प्यार में जीती है |”

“जितना अच्छा तुम मुँह बनती हो, काश तुम चाय भी उतना ही अच्छा बनाती |”

“मेरे जज्बातों का कोई तो सिला दो, कभी घर बुला के चाय तो पिला दो |”

“छोड़ जमाने की फ़िक्र यार, चल किसी नुक्क्ड़ पे चाय पीते है।
आओ साथ बैठकर चाय पीते है, सुना है, साथ में पीने से चाहत बढ़ती है |”

“जिसका हक है उसी का रहेगा मौहब्बत चाय नही जो सबको पिला दी जाए |”

“चाय और चरित्र जब भी गिरता है तो दाग जरूर लगता है |”

“आदत नही कुछ नाइलाज़ बीमारी है चाय से मेरी कुछ इस कदर बीमारी है |”

“चाय ही सच्चा प्यार है बकी सब बेकर है |”

“उनको बहाने की तलाश थी हमे मिलने का मौका देख हमने भी बता दिया हैम चाय अछि बना लेते है |”

“मिलो कभी चाय पर फिर क़िस्से बुनेंगे.. तुम ख़ामोशी से कहना हम चुपके से सुनेंगे |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“एक तेरा ख़्याल ही तो है मेरे पास. वरना कौन अकेले में बैठे कर चाय पीता है |”

“चाय, शायरी, और तुम्हारी यादे भाते बहुत हो दिल जलाते बहुत हो  |”

“सुनो तुम चाय अच्छी बनाती हो, पर मुंह बनाने में भी तुम्हारा कोई जवाब नहीं |”

“मैंने देखा ही नहीं कोई मौसम, मैंने चाहा है तुम्हें चाय की तरह |”

“एक तेरा ख़्याल ही तो है मेरे पास, वरना कौन अकेले में बैठे कर चाय पीता है |”

“बैठे चाय की प्याली लेकर पुराने किस्से गरम करने चाय ठंङी होती गई और आंखें नम |”

“ज़िन्दगी वही जीते है, जो गर्मी में भी चाय पीते है |”

“चाय, शायरी और तुम्हारी यादे भाते बहुत हो. दिल जलाते बहुत हो |”

“कुछ इस तरह से शक्कर को बचा लिया करो, चाय जब पीयो हमें जहन में बैठा लिया करो |”

“एक चाय फीकी सी हो जाए, तुम्हारी मीठी-मीठी बातों के साथ |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“आज फिर चाय की मेज़ पर एक हसरत बिछी रह गयी, प्यालियों ने तो लब छू लिए केतली देखती रह गयी |”

“कुछ इस तरह से शक्कर को बचा लिया करो,
चाय जब पीओ हमें जहन में बैठा लिया करो |”

“सुना है सर्दियो में चाय पिलाना ब ड़े पुण्य का काम होता हैं ? कौन कौन पुण्य करेगा आज?”

“सर्दियों के बस दो ही जलवे, तुम्हारी याद और चाय |”

“जब सुबह-सुबह तेरे प्यार के नग्में को गुनगुनाता हूं, लब मुस्कुराते है जब चाय का कप उठाता हूं |”

“सुबह की चाय और बड़ो की राये, समय समय पर लेते रहना चाहिए |”

“मिलो कभी चाय पर फिर क़िस्से बुनेंगे.. तुम ख़ामोशी से कहना हम चुपके से सुनेंगे |”

“हम तुम शायरी और एक कप चाय, ख्वाब भी देखो जाना मेरे कितने हसीन है |”

“सभी सिसकियों की हाय लाया हूं, अहल-ए-गम बैठों जरा मैं चाय लाया हूं |”

“दोबारा गर्म की हुई चाय और समझौता किया हुआ रिश्ता दोनों में पहले जैसी मिठास कभी नही आती |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“मेरे जज्बातों का कोई तो सिला दो, कभी घर बुला के चाय तो पिला दो |”

“अब तो चाय को भी खुद पर गुरुर होता है, बखूबी जानती है वो हम पर उसका सुरूर होता है |”

“ख़बर तब फैली मोहल्ले में तेरे-मेरे इश्क़ की जब मेरे चाय .के कप पर तेरे होंठों के निशान मिले |”

“कड़क ठंडक में कड़क चाय का मज़ा शराबी क्या जाने चाय का नशा |”

“ठण्ड का मौसम हो और किसी की यादे हो सीने में, फिर ऐसे मौसम में मजा आता है गर्मा गरम चाय पीने में |”

“हाथ में चाय और यादों में आप हो, फिर उस खुशनुमा सुबह की क्या बात हो |”

“जुर्म एक संगीन किया जाए आप के साथ, सुबह को रंगीन किया जाए चाय के साथ |”

“सुबह की चाय में तुम्हारी याद वो मिठास है, जिसके बिना मेरी चाय फिकी से लगती है |”

“प्यालियों ने तो लब छू लिए केतली देखती रह गयी।
आज फिर चाय की मेज़ पर एक हसरत बिछी रह गयी |”

“इश्क़ और सुबह की चाय दोनों एक समान होती हैं |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“उफ्फ चाय की तरह चाहा है मैने तुझे |”

“और तुने बिस्कुट की तरह डुबो दिया अपनी यादो मे मुझे |”

“आज लफ्जों को मैने शाम की चाय पे बुलाया है |”

“बन गयी बात तो ग़ज़ल भी हो सकती है |”

“हलके में मत लेना तुम सावले रंग को दूध से कहीं ज्यादा देखे है मैंने शौक़ीन चाय के |”

“चाय दूसरी एसी चीज़ है, जिससे आंखें खुलती है धोखा अभी भी पहले नम्बर पर है |”

“चाय के बाद दूसरा रंग तुम्हारा है, जो मुझे साॅवला अच्छा लगता है |”

“ये बारिश का मौसम, और तुम्हारी याद चलो फिर मिलते है, एक कप चाय के साथ |”

“वो पल भी कोई पल है, जिस पल में तेरा एहसास न हो, वो चाय फिर चाय कैसी जिसमें तेरे होंठो सी मिठास न हो

“हर रिश्ता प्यार वाला हो जरुरी नहीं, कुछ रिश्ते चाय वाले भी होते है |”

shayari on chai

Shayari on Chai

“इश्क़ और सुबह की चाय दोनों एक समान होती हैं, हर बार वही नयापन, हर बार वही ताज़गी |”

“चाय पीते वक्त चर्चा और गर्लफ्रेंड बनाते वक्त खर्चा हम बिल्कुल नहीं करते है, इसलिए खुश रहते है |”

“सुना है सर्दियो में चाय पिलाना बड़े पुण्य का काम होता हैं? कौन कौन पुण्य करेगा आज? “

“उफ़्फ़ ये बारिश…. एक कप चाय…. और कुछ पुरानी यादें…. तीनो का लुत्फ़ एक साथ…. ऐसे खो जाना अच्छा लगता है मुझे….”

shayari on chai

Shayari on Chai in English

“I love that this morning’s sunrise does not define itself by last night’s sunset.”

“Good days start with tea and you.”

“Today is a multiple cups of tea kind of day.”

“You were my cup of tea but i drink champagne now.”

“Be strong then your Excuses.”

“I am tea Addict.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“You can never get a cup of tea large enough or a book long enough to suit me.”

“Tea is the magic key of the vault where my brain is kept.”

“It feels like an honor to share a cup of tea with other people. It feels like an act of grace.”

“I declare after all there is no enjoyment like reading.”

“You can’t get a cup of tea big enough or a book long enough to suit me.”

“You are my cup of tea.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“Tea it’s what winners drink.”

“Keep calm and be a tea lover.”

“Behind every successful woman, is a substantial amount of tea.”

“Where there’s tea there’s home.”

“A cup of tea is an excuse to share great thoughts with great minds.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“Like is like a cup of tea, it’s all in how you make it.”

“A cup of tea makes everything better.”

“There is not trouble so great or grave that cannot be diminished by a nice cup of tea.”

“Thank god for tea! What would the world do without tea! How did it exist? i am glad i was not born before tea.”

“Oh, how i love tea. i wish i could marry it.” “Rainy days should be spent at home with a cup of tea and a good book.”

“Life needs more sweet tea & Sunshine.” “A strong cup of tea and you is all i need wake up every Good Morning.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“Come, let us have some tea and talk about happy things.”

“Life is like a cup of tea to be filled to the brim and enjoyed with friends.”

“A cup of tea is a cup of peace.”

“A woman is like a tea bag you never know how strong she is until she gets in hot water.”

“Life can be related to tea if you think it has not become good try to make it good. If it’s good try to make it better, if it’s better try to make a best one and if it is best just try to hold it on.”

“A morning tea should be strong enough like motivational talks to make the start of the day with positivity.”

“A cup of tea with friends makes it we time with tea time.”

“Handling me is like a cup of tea.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“Emotions are like tea. You never know how strong it is until it is tasted.”

“A bedtime tea makes you tension free.”

“Relationships are like tea, it changes colour when the situation and pressure changes.”

“Positivity comes with a strong black tea.”

“Whenever we do something that requires heavy courage we do prefer a stimulant. For me it’s the tea.”

“Tea with proper sugar and milk are like heavens with angels. You just feel their positive presence.”

“For few tea would always be incomplete without the perfect add of milk and sugar. That defines the balance we should always maintain to keep our lives at pace.”

“What defines a human being is his sense of humour. What defines a perfect tea is the sense of the tea leaves being used.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“Mornings are never complete without a perfect cup of tea. It doesn’t only stimulate us for the day. It senses us with the perfect gambling of flavours and quality.”

“If drinking tea is an addiction I am ready to die with it. And if there’s any mean by which I get saved I promise to double up my addiction.”

“What the difference between tea and black coffee asked Ram? It’s same as handloom and cotton giggled Puspa.”

“Tea has not only been my companion for the last few years. Perhaps it has been the only one who had listened to all my stories.”

“We decide the best for us. That’s why even the pluckers choose the leaves on the upper halves of the plant instead of the lower halves.”

“Bond of cookies and tea is like happiness and life, as tea without cookies are incomplete, life without happiness is never complete.”

“A cup of tea may help you to change your personality.”

shayari on chai

Shayari on Chai

“A cup of tea is similar to life. It depends on the ingredients put to make it.”

“A cup of tea always makes you happy.”

“Life is like tea, it comes in different flavours in different states.”

“Tea and life if both are handled smartly it won’t bring any burn.”

“Tea opens our mind and love opens our sight.
Everything started with a cup of tea and ended with it too.”

“Tea for free’ is the finest feeling to glee.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *